ऑनलाइन जुए के लिए कोई सामाजिक सहायता योजना नहीं है: इंडोनेशियाई राष्ट्रपति Widodo

Jenny Ortiz एक महीने पहले
ऑनलाइन जुए के लिए कोई सामाजिक सहायता योजना नहीं है: इंडोनेशियाई राष्ट्रपति Widodo

इंडोनेशिया के राष्ट्रपति Joko Widodo ने ऑनलाइन जुआ खेलने वालों को सामाजिक सहायता प्रदान करने की किसी भी योजना से इनकार किया है। राष्ट्रपति ने यह टिप्पणी ऑनलाइन जुए से प्रभावित परिवारों की संभावित सहायता के बारे में हाल ही में हुई चर्चाओं के जवाब में की है। यह एक ऐसा प्रस्ताव है जिसने एक ज़रूरी विवाद को जन्म दिया है क्योंकि इंडोनेशिया में ऑनलाइन जुआ अवैध है।

एक स्थानीय रिपोर्ट के अनुसार, सामाजिक सहायता प्रदान करने का विचार सबसे पहले मानव विकास और सांस्कृतिक मामलों के समन्वय मंत्री Muhadjir Effendy ने 13 जून को एक बैठक के दौरान पेश किया था, जिसका उद्देश्य ऑनलाइन जुआ उन्मूलन टास्क फोर्स की स्थापना करना था। टास्क फोर्स के उपाध्यक्ष ने बाद में 17 जून को स्पष्ट किया कि जुआरियों पर मुकदमा चलाया जाना चाहिए, लेकिन ये प्रस्तावित सहायता उनके परिवारों के लिए थी।

जुए के खिलाफ Widodo का कड़ा रुख

राष्ट्रपति Widodo के हालिया बयान ऑनलाइन जुए पर चल रही कार्रवाई के बीच आए हैं, जिन्हें इंडोनेशिया भर में कई खतरनाक आपराधिक मामलों से जोड़ा गया है। अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर साझा किए गए एक वीडियो में, राष्ट्रपति ने अपने पैसे के समझदारीपूर्ण मैनेजमेंट के महत्व पर जोर दिया और सार्वजनिक हस्तियों, धार्मिक नेताओं और नागरिकों से ऑनलाइन जुए के किसी भी संकेत की निगरानी करने और रिपोर्ट करने का आग्रह किया।

जनता और विशेषज्ञों की राय

इस प्रस्ताव की अलग-अलग क्षेत्रों से तीखी आलोचना हुई है। इंडोनेशियाई फोरम फॉर बजट ट्रांसपेरेंसी (FITRA) ने इस विचार की निंदा करते हुए तर्क दिया कि ऑनलाइन जुआ खेलने वालों के परिवारों को सामाजिक सहायता देना एक तरह से जुआरियों को ही सब्सिडी देता है। वहीं FITRA के शोधकर्ता Gurnadi Ridwan ने सुझाव दिया कि सरकार को गरीबी से निपटने के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

सेंटर ऑफ इकनोमिक एंड लॉ स्टडीज (सेलिओस) में डिजिटल इकोनॉमी के निदेशक, Nailul Huda ने इसी बात के समर्थन में कहा कि ऑनलाइन जुआ खेलने वालों को सामाजिक सहायता नहीं मिलनी चाहिए क्योंकि वे राज्य के नुकसान में योगदान देते हैं।

लेकिन इन प्रचलित आलोचनाओं के उलट, जकार्ता स्टेट यूनिवर्सिटी के समाजशास्त्री Asep Suryana ऑनलाइन जुआ खेलने वालों के परिवारों को सामाजिक सहायता देने के विचार का बचाव किया। उन्होंने तर्क दिया कि ऑनलाइन जुआ एक मनोसामाजिक (साइकोसोशल) मुद्दा है, और इसके आदी लोग अक्सर अपने किये गए कामों के लम्बे समय में होने वाले परिणामों पर विचार नहीं करते हैं।

SiGMA पूर्वी यूरोप समिट

2 से 4 सितंबर तक बुडापेस्ट में होने वाले आगामी SiGMA पूर्वी यूरोप समिट में इंडस्ट्री में लेटेस्ट अपडेट और ट्रेंड्स के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करें, जिसमें लेटेस्ट रेगुलेटरी समाचार से लेकर लेटेस्ट इनोवेशन शामिल हैं।

Share it :

ख़ास आप के लिए
Lea Hogg
7 घंटे पहले
Jenny Ortiz
7 घंटे पहले
Lea Hogg
20 घंटे पहले
Lea Hogg
22 घंटे पहले